ज़िन्दगी सैड शायरी हिंदी

छोटी सी जिंदगी है अरमान बहुत है, हमदर्द नहीं कोई इंसान बहुत है, दिल का दर्द सुनाए तो किसको, जो दिल के करीब है, वो अनजान बहुत है।

ख़्वाबों से मुझको और न बहला सकेगी, रहने दे ज़िन्दगी, तेरा जादू उतर गया।

वही रंजिशें वही हसरतें, न ही दर्द ए दिल में कमी हुई, है अजीब सी मेरी ज़िन्दगी, न गुज़र सकी न खत्म हुई।

पढ़ने वालों की कमी हो गयी है आज इस ज़माने में, वरना मेरी ज़िन्दगी का हर पन्ना, पूरी किताब है।

नज़रों से दूर सही दिल के बहुत पास है तू, बिखरी हुई इस ज़िन्दगी में मेरे जीने की आस है तू।

जिंदगी से अपना हर दर्द छुपा लेना, ख़ुशी ना मिले तो ग़म गले लगा लेना, कोई अगर कहे मोहब्बत आसान होती है, तो उसे मेरा टूटा हुआ दिल दिखा देना।

कभी ये फिक्र, कभी वो मुसीबत, जिंदगी क्या यूं ही गुजरने वाली है।

READ MORE